जिसने सरकारी संपत्ति फूंकी है, उन सब की संपत्ति को करेंगें जब्त, एक को भी नहीं छोड़ेंगें: योगी

ठळक घडामोडी राष्ट्रीय हिंदी न्यूज

लखनऊ, 19 दिसंबर: नागरिकता संसोधन कानून के विरोध में गुरूवार उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में बेहद हिंसक प्रदर्शन हुआ, कहीं पुलिस चौकियां फूंक दी गयी तो कहीं सरकारी बसों को जला दिया गया। उत्तर प्रदेश में हुए इस उपद्रव पार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का बयान आया है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा की, जो भी हिंसा में शामिल हुआ है, या आगे भी हिंसा में शामिल होगा उससे सख्ती से निपटेंगे, इसके साथ ही सीएम योगी ने कहा की, जिन्होनें ने भी सरकारी सम्पत्तियों को जलाया है उनको पहचान कर उनकी सम्पत्ति को जब्त कर के नुकसान की भरपाई करेंगें।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा की, सभी दंगाइयों के चेहरे फोटो फोटो, वीडियो के माध्यम से उजागर हो जायेंगें, हम छोड़ेंगें नहीं किसी को।

इसके अलावा उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने पर हुई हिंसा के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस, सपा, बसपा और वामपंथी संगठनों को जिम्मेदार ठहराया है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें की की गुरूवार को संभल में कई सरकारी बसें फूंक दी गयी तो वहीं राजधानी लखनऊ में कई पुलिस स्टेशन आएग के हवाले कर दिए गए।